bharat ka sanvidhan kab lagu hua tha : भारत का संविधान कब लागू हुआ था

दोस्तों, शायद आपको मालूम होगी की कैबिनेट मिशन योजना के तहत भारत का संविधान बनाने के लिए वर्ष 1946 में एक संविधान सभा का गठन किया गया था। इस संविधान सभा के द्वारा 26 नवंबर 1949 को संविधान का निर्माण एवं अंगीकृत कर लिया गया था। परंतु इस दिन पूर्ण रूप से लागू नहीं किया गया, तो प्रश्न है की bharat ka sanvidhan kab lagu hua tha (भारत का संविधान कब लागू हुआ था)।

आज इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे की bharat ka sanvidhan kab lagu hua tha और उस दिन ही क्यों लागू किया गया? आप इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़ें, क्योंकि इसमें bharat ka sanvidhan kab lagu hua tha के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई है।

तो आईए जानते हैं भारत का संविधान कब लागू हुआ था?

bharat ka sanvidhan kab lagu hua tha

संविधान सभा द्वारा भारत का संविधान को 26 नवंबर 1949 को मंजूरी दे दी गई, तथा इस दिन आंशिक रूप से कुछ अनुच्छेदों को लागू भी कर दिया गया था।

लेकिन,पूर्ण रूप से भारत पर संविधान को इस दिन लागू नहीं किया गया था। 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान पूर्ण रूप से संपूर्ण भारत पर लागू कर दिया गया एवं इस दिन गणतंत्र दिवस के रूप में सेलिब्रेट किया गया।अभी भी हर वर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 को ही क्यों लागू किया गया था

भारतीय संविधान का 26 जनवरी की तारीख से खास कनेक्शन है, एवं इसे लागू करने की चुनी गई तारीख कि भी एक खास वजह है।इसलिए 26 जनवरी को ही भारत का संविधान लागू किया गया था।

Read also:- •भारतीय संविधान की प्रस्तावना

26 जनवरी और भारतीय संविधान का कनेक्शन

जनवरी 1950 को हस्तलिखित संविधान की दो कॉपियों पर दस्तखत किए गए। मूल संविधान में 10 पेज पर संविधान सभा के 284 सदस्यों के द्वारा हस्ताक्षर किया गया।

इनमें पहले हस्ताक्षर तत्कालीन राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद के द्वारा किया गया था। इसके ठीक 2 दिन के पश्चात भारतीय संविधान को पूर्ण रूप से भारत पर लागू कर दिया गया।

इसके लिए 26 जनवरी का दिन चुनने की एक खास वजह है, क्योंकि वर्ष 1929 के दिसंबर महीने में लाहौर में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अधिवेशन संपन्न हुआ था। इस अधिवेशन की अध्यक्षता पंडित जवाहरलाल नेहरू द्वारा की गई थी।

इसी अधिवेशन में यह कहा गया था कि, यदि ब्रिटिश हुकूमत के द्वारा 26 जनवरी 1930 तक भारत को डोमिनियन पद का दर्जा नहीं दिया जाता है, तो भारत अब डोमिनियन राज्य नहीं बल्कि पूर्ण स्वराज की घोषणा करेगा।

Also read:- •मौलिक अधिकार (Fundamental rights )के बारे में जाने

26 जनवरी 1930 को मनाया गया था पहला स्वतंत्रता दिवस

26 जनवरी 1930 को भारत में पहली बार स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। इस खास दिन को मनाते हुए पंडित जवाहरलाल नेहरू जी के द्वारा इस दिन झंडा फहराया गया। 26 जनवरी 1930 को स्वतंत्रता दिवस के रूप में भारतीयों के द्वारा सेलिब्रेट किया गया।

इसलिए इस तिथि के स्मृति को संजोय रखने के लिए 26 नवंबर 1949 को भारत का संविधान तैयार हो जाने के बावजूद भी इस दिन न लागू करके 26 जनवरी 1950 का इंतजार किया गया।

ताकि 26 जनवरी 1930 का स्मृति हमेशा के लिए यादगार रहे एवं जब भी गणतंत्र दिवस मनाया जाए तो इस तिथि का स्मरण सभी भारतीयों को हो जाए कि भारतीयों के द्वारा पहला स्वतंत्रता दिवस 26 जनवरी 1930 को ही मनाया गया था।

इसलिए 26 जनवरी 1950 के दिन भारत को एक संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित किया गया। इसके साथ ही भारत का संविधान लागू हुआ।

स्वतंत्र भारत के पहले और अंतिम गवर्नर जनरल चक्रवर्ती राजगोपालाचारी ने इस तिथि को अपने पद से इस्तीफा दिया एवं इस तरह डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद 26 जनवरी 1950 को राष्ट्रपति का पद संभालें।

इस प्रकार 26 जनवरी 1950 के दिन भारत को अपना राष्ट्रपति प्राप्त हुआ। प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन सैैैैन्य और सांस्कृतिक झांकियां निकाली जाती है।

Read also:- •मानव अधिकार /मानवाधिकार क्या है?विस्तृत जानकारी प्राप्त करें

FAQ :- पोस्ट से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

(1). 26 नवंबर 1949 एवं 26 जनवरी 1950 में क्या अंतर है?

उत्तर:- 26 नवंबर 1949 को को हमारे देश का संविधान लिखित रूप में बनकर तैयार हो गया था, एवं संविधान सभा के द्वारा अपनाया गया था। जबकि 26 जनवरी 1950 के दिन हमारे देश का संविधान पूर्ण रूप से लागू हो गया था। 26 नवंबर को वर्ष संविधान दिवस एवं कानून दिवस के रूप में मनाया जाता है, जबकि 26 जनवरी को प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

(2). 26 नवंबर 1949 को संविधान क्यों अपनाया गया?

उत्तर:- संविधान के महत्व को फैलाने एवं बाबा साहेब अंबेडकर के विचारों को फैलाने के लिए 26 नवंबर का दिन संविधान को अपनाने के लिए चुना गया था।

(3). भारत का पहला गणतंत्र दिवस कब मनाया गया?

उत्तर:- जनवरी 1950 को भारत का संविधान पूर्ण रूप से लागू किया गया एवं इसी दिन भारत को गणतांत्रिक देश घोषित किया गया। इसी दिन गणतंत्र दिवस मनाया गया। इस दिन मनाए जाने वाले गणतंत्र दिवस के दिन शानदार सैन्य और सांस्कृतिक तमाशा प्रत्येक वर्ष दिखाए जाते हैं।

(4). 26 नवंबर 1949 को भारत के संविधान के कितने अनुच्छेदों को लागू किया गया था?

उत्तर:- 26 नवंबर 1949 को भारतीय संविधान के अनुच्छेद 5 ,6, 7, 8, 9 ,60, 324, 366, 367, 379, 380, 388, 391, 392 ,393 और 394 को लागू किया गया था।

(5). 26 जनवरी 1950 को भारतीय संविधान में कितने मौलिक अधिकार थे?

उत्तर:- मूल संविधान में 7 मौलिक अधिकार दिए गए थे, लेकिन 44 में संविधान संशोधन के बाद संपत्ति का अधिकार (अनुच्छेद 31 से अनुच्छेद 19 f) को मौलिक अधिकार की सूची से हटाकर संविधान के अनुच्छेद 301(a) में जोड़कर के मौलिक अधिकार से कानूनी अधिकार बना दिया गया।

Read also: –• 1928 में भारत का संविधान किसने बनाया : Indian Constitution

तो दोस्तों, उम्मीद है कि इस bharat ka sanvidhan kab lagu hua tha दी गई जानकारी को पढ़कर आपको अच्छा लगा होगा। ऐसे ही और जानकारी हासिल करने के लिए इस वेबसाइट को सब्सक्राइब करें तथा टेलीग्राम ग्रुप से भी जुड़ जाएं ।इस पोस्ट को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ भी अवश्य शेयर करें, ताकि उन्हें भी इस पोस्ट का लाभ प्राप्त हो सके ।

अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद।💐💐

  Read also:- •भारत के राष्ट्रपति कौन हैं जानें इनके बारे में विस्तार से

 

Leave a Reply

Discover more from teckhappylife.com

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading