Chandra grahan 2023 in india date and time|साल का अंतिम चंद्र ग्रहण शरद पूर्णिमा की रात, जानें सूतक का समय और प्रभाव

दोस्तों, यदि आप जानना चाहते हैं Chandra grahan 2023 in India date and time  के बारे में तो, आप बिल्कुल सही पोस्ट पर आए हुए हैं ।इसलिए इस पोस्ट को आप शुरू से लेकर अंत तक अवश्य पढ़ें।

Lunar Eclipse 2023 Date & Time: दोस्तों,शरद पूर्णिमा की रात इस साल का अंतिम चंद्रग्रहण लगने वाला है। इसलिए भारत और भारत में रहने वालों के लिए Chandra grahan 2023 in India date and time बेहद ही खास होने वाला है।इस चंद्र ग्रहण की रात देवी लक्ष्मी की साधन अत्यंत ही फलदायी साबित होगी।

Table of Contents

यह चंद्रग्रहण भारत में दृश्य होने वाला है । इसलिए इसका सूतक काल भी मान्य होगा। तो आइए जानते हैं कि शरद पूर्णिमा की रात लगने वाले चंद्रग्रहण का सूतक काल और प्रभाव क्या होगा।

Chandra Grahan October 2023: इस वर्ष का अंतिम चंद्र ग्रहण अक्टूबर माह में लगने वाला है। धार्मिक और वैज्ञानिक दोनों ही दृष्टि से यह ग्रहण बहुत ही महत्वपूर्ण है । मैं आपको बता दूं कि इस वर्ष का पहला चंद्र ग्रहण 5 में को वैशाख पूर्णिमा के दिन लगा था ।

यह चंद्र ग्रहण दुनिया भर के कई हिस्सों में दिखाई पड़ा था, परंतु भारत में दिखाई नहीं दिया था. लेकिन वर्ष का अंतिम चंद्र ग्रहण भारत में भी दिखाई देने वाला है।तो आईए जानते हैं कि इस चंद्र ग्रहण का सूतक काल का समय क्या होगा?

चंद्रग्रहण की तारीख और समय

जानकारी के लिए मैं आपको बता दूं कि इस वर्ष का अंतिम चंद्र ग्रहण आश्विन पूर्णिमा यानी की 28 अक्टूबर की मध्य रात्रि को भारत के पूरे भाग में खंड ग्रास के रूप में दिखाई पड़ने वाला है।यह चंद्र ग्रहण मध्य रात्रि में 1:05 पर प्रारंभ होगा और रात्रि के 2 बजकर 24 मिनट तक रहेगा। यह चंद्र ग्रहण भारत के सभी शहरों में दिखाई देगा।

चंद्रग्रहण के सूतक काल का समय

शायद आपको मालूम होगी कि चंद्र ग्रहण का सूतक काल ग्रहण लगने से 9 घंटे पहले ही शुरू हो जाता है। मैं आपको बता दूं कि सूतक काल के दौरान किसी भी प्रकार का कोई मांगलिक कार्य या पूजा पाठ संपन्न नहीं किया जाता है ।28 अक्टूबर की मध्य रात्रि को लगने वाले चंद्र ग्रहण का सूतक काल 28 अक्टूबर के शाम 4:05 पर प्रारंभ हो जाएगा।

कहां-कहां दिखाई देगा चंद्रग्रहण

यह चंद्र ग्रहण भारत के अतिरिक्त और भी कई देशों में दिखाई पड़ने वाला है। यह चंद्र ग्रहण ऑस्ट्रेलिया ,संपूर्ण एशिया, यूरोप, दक्षिण पूर्वी अमेरिका ,अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका के उत्तरी पूर्वी क्षेत्र ,दक्षिणी प्रशांत महासागर और हिंद महासागर में दिखाई पड़ने वाला है।

ग्रहण काल के दौरान और बाद में क्या करें?

चंद्र ग्रहण के सूतक काल और चंद्र ग्रहण कल के दौरान आप चंद्रमा से संबंधित कोई भी मंत्रों का जाप कर सकते हैं। ग्रहण काल 28 अक्टूबर को सूर्यास्त के बाद अपने सामर्थ्य के अनुसार और ब्राह्मण के परामर्श अनुसार दान का संकल्प लेकर अगले दिन सूर्योदय के समय स्नान करने के पश्चात ब्राह्मण को कुछ दान दे सकते हैं। यह करना पुण्य का कार्य माना जाता है।

इस वर्ष का सूर्य ग्रहण | surya grahan 2023:-

1. पहला सूर्य ग्रहण :-

20 अप्रैल 2023 को गुरुवार के दिन इस साल का पहले सूर्य ग्रहण लग चुका है ।यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं पड़ा था। यह सुबह 7:04 से दोपहर 12:29 तक रहा था।

2. दूसरा सूर्य ग्रहण :-

14 अक्टूबर 2023 को शनिवार के दिन इस साल का दूसरा सूर्य ग्रहण लगने वाला है।यह सूर्य ग्रहण संभवतः भारत में दृश्यमान नहीं होने वाला है। 

जानें, कैसे होता है सूर्य ग्रहण? :-

सूर्य ग्रहण तब लगता है जब सूरज आंशिक अथवा पूर्ण रूप से चंद्रमा द्वारा आवृत्त हो जाता है। वैज्ञानिकों के अनुसार धरती सूरज की परिक्रमा करती रहती है ,और चंद्रमा धरती की परिक्रमा करता है। जब सूरज और धरती के बीच में चंद्रमा आ जाता है ,तो वह सूरज की रोशनी को कुछ समय के लिए ढ़क लेता है ।इसी घटना को सूर्य ग्रहण कहा जाता है।

जानें,कैसे होता है चंद्रग्रहण?

जब सूरज और चंद्रमा के बीच में पृथ्वी आ जाती है तब सूरज की रोशनी चंद्रमा तक पहुंच नहीं पाती है।तो इसे चंद्र ग्रहण कहा जाता है। इस घटना के दौरान धरती की छाया चंद्रमा पर पड़ती है। धरती की छाया जब चंद्रमा के संपूर्ण हिस्से को ढक लेती है ,तो खग्रास ग्रहण लगता है।

Chandra Grahan 2023

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, वर्ष का आखिरी चंद्र ग्रहण कई राशियों के जीवन में खुशियों का भंडार ला सकता है।तो जानिए कि किसे मिलेगा लाभ।

Chandra Grahan 2023

इस वर्ष का अंतिम चंद्र ग्रहण अक्टूबर माह के अंत में लगने वाला है ।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, यह चंद्र ग्रहण काफी महत्वपूर्ण होने वाला है। जब राहु या केतु सूरज या चंद्रमा को ग्रसित करते हैं, तब माना जाता है कि ग्रहण लगता है।

इनकी और शुभ छाया का असर हर राशि के जातकों के जीवन में किसी न किसी तरह से पड़ता ही है। तो जानिए इस चंद्र ग्रहण से किन राशियों को मिलेगा खूब लाभ।

Chandra grahan 2023 India date and time

चंद्र ग्रहण का इन राशियों पर होगा प्रभाव

 इस साल का आखिरी चंद्र ग्रहण कई राशियों के जीवन में खुशियां ही खुशियां ला सकता है। जानिए किन राशियों को मिलेगा विशेष लाभ।

मेष राशि (Mesh Zodiac)

इस वर्ष के दूसरे चंद्र ग्रहण का प्रभाव मेष राशि के जातकों के जीवन में सकारात्मक रूप से पड़ने वाला है। मेष राशि के जातक अपनी व्यक्तिगत महत्वाकांक्षाओं और रिश्तों पर विचार कर सकते हैं।

इनमें में आत्मविश्वास की बढ़ोतरी होने वाली है जिससे उन्हें जीवन में आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। अपने परिवार के साथ भी मेष राशि वालों का अच्छा समय बीतेगा ।इनके जीवन में धन-धान्य की बढ़ोतरी होगी। यह नया व्यापार शुरू कर सकते हैं। उनके वैवाहिक जीवन में भी बहुत सारी खुशियां आएंगे।

 सिंह राशि (Sigh Zodiac)

 यह चंद्र ग्रहण सिंह राशि की आत्म अभिव्यक्ति और रचनात्मकता में बदलाव ला सकता है। ऐसे में इस राशि के जातकों को अपनी प्रतिभा दिखाने का काफी मौके मिल सकते हैं। रचनात्मक कार्यों में इनका झुकाव बढ़ेगा मेष राशि के जातक अपनी बातों से हर किसी को प्रेषित कर सकते हैं।

इनके जीवन में धन-धान्य की बढ़ोतरी के साथ ही सुख संपदा की भी प्राप्ति हो सकती है। इसलिए कह सकते हैं कि यह चंद्र ग्रहण मेष राशि के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है।

धनु राशि (Dhanu Zodiac)

धनु राशि के जातकों के लिए इस साल का अंतिम चंद्र ग्रहण काफी लाभकारी सिद्ध हो सकता है ।धन प्राप्ति के नए अवसर प्राप्त हो सकते हैं। इनको नौकरी पैसा लोगों का भी लाभ मिलने वाला है ।कार्य स्थल में धनु राशि के जातकों को उनके काम के लिए प्रशंसा की जाएगी।

ऐसे में इनसे उच्च अधिकारी प्रसन्न होकर कोई बड़ी जिम्मेदारी इनको सौप सकता है। इस राशि के जातकों की आर्थिक स्थिति भी काफी अच्छी होने वाली है। इनके लंबे समय से रुके काम पूरे हो सकते हैं।

चंद्र ग्रहण के समय करें इन मंत्रों का जाप

दोस्तों, आपको चंद्र ग्रहण दिखे या ना दिखे लेकिन इसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता ही है। माना जाता है कि यदि चंद्र ग्रहण वाले दिन चंद्रमा के मंत्र ‘ॐ सों सोमाय नमः’अथवा भगवान शिव के मंत्र ‘ॐ नमः शिवाय’ का जाप रुद्राक्ष की माला से करना चाहिए। इससे हमारे जीवन पर अशुभ प्रभाव नहीं पड़ता है।

चंद्र ग्रहण में न करें ये काम

✓ चंद्र ग्रहण के समय खाने से परहेज करना चाहिए।

 ✓ग्रहण के कारण रखे हुए भोजन विष के समान हो जाता है। इसलिए इस भोजन को ग्रहण नहीं करना चाहिए, क्योंकि ऐसे भोजन के ग्रहण करने से आपके स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है। कई तरह की बीमारियों को यह विषैला भोजन अपनी तरफ आकर्षित करता है।

 ✓जो महिलाएं गर्भवती हैं, उन्हें ग्रहण के समय  भूलकर भी घर से  बाहर नहीं जाना चाहिए। क्योंकि ग्रहण का पेट में जन्म ले रहे बच्चे पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। बच्चा कई बीमारियों से ग्रसित हो सकता है।

✓ ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को सोना नहीं चाहिए।

✓चंद्र ग्रहण के दौरान मंदिर के कपाट को बंद कर देना चाहिए। इस समय ना तो पूजा करनी चाहिए और ना ही भगवान के मूर्ति को स्पर्श करना चाहिए।

✓पूजा-पाठ की चीजों को स्पर्श नहीं करना चाहिए।

Chandra Grahan 2023 Pregnancy: सोने से करें परहेज

ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को सोने से परहेज करना ही चाहिए। यदि वह ऐसा नहीं करती है ,तो अपने बच्चों के गलत करती हैं। ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं के सोने से आज जन्मे बच्चे की बुद्धि पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इससे बच्चा मानसिक रूप से मंदबुद्धि वाला हो सकता है।

Pregnancy: तनाव और विवाद की स्थिति से दूर रहें

✓ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को भगवान का स्मरण करते रहना चाहिए।

✓उनको अपने मन में नकारात्मक विचार नहीं आने देना चाहिए।

✓साथ ही तनाव और विवाद की स्थिति से बचने की कोशिश करनी चाहिए।

✓इस समय क्रोध और अहं बिल्कुल ना करें। खुद को पूरी तरह से शांत रखने की कोशिश करें।

✓ग्रहण के समय अपने मन में गलत विचार लाकर बिल्कुल भी ना घबराए। क्योंकि यदि ऐसा करती है तो उनके बच्चे पर इसका गलत प्रभाव पड़ेगा।

Chandra Grahan 2023 Pregnancy: धारदार चीजों का न करें इस्तेमाल

✓ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं धारदार चीजों का इस्तेमाल करने से अपने आप को बिल्कुल ही दूर रखें।

जैसे की:-

✓सब्जी ना काटे,

✓सिलाई कढ़ाई ना करें ,

✓कैची चाकू का उपयोग बिलकुल भी ना करें,

यदि आप ऐसा करती हैं तो मां के साथ-साथ बच्चों पर भी इसका बुरा असर पड़ेगा।

Chandra Grahan 2023: चंद्र ग्रहण समाप्त होने पर करें ये काम

✓चंद्र ग्रहण के समय निकलने वाली किरणों का इंसानों पर गलत प्रभाव पड़ता है ।इसलिए ग्रहण समाप्त हो जाने के बाद हमें स्नान अवश्य कर लेना चाहिए ।

✓यदि संभव हो तो नहाने के पानी में थोड़ा सा गंगाजल मिलाकर स्नान करना चाहिए। ऐसा करने से ग्रहण के कारण पड़ने वाला नकारात्मक प्रभाव दूर हो जाता है।

✓ग्रहण समाप्त होने के बाद पूरे घर में भी गंगाजल का छिड़काव करना चाहिए।

✓साथ ही घर के पूजा स्थल के पास और उसके अंदर गंगाजल का छिड़काव अवश्य करना चाहिए।इससे हमारे घर में पड़े नकारात्मकता दूर हो जाता है और हमारा घर शुद्ध हो जाता है।

✓एक धार्मिक मान्यता के अनुसार कहा जाता है कि ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए हमें गाय को रोटी खिलाना चाहिए। इससे हमारे ऊपर नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ते हैं।

✓ग्रहण समाप्त हो जाने के बाद हमें अपने सामर्थ्य के अनुसार गरीबों को या ब्राह्मण को कुछ दान करना चाहिए। हो सके तो कुछ गरीबों को खाना भी खिला सकते हैं।

दोस्तों, उम्मीद है कि Chandra grahan 2023 in india date and time पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी। ऐसे ही और जानकारी हासिल करने के लिए इस वेबसाइट के साथ हमेशा बने रहे।

अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद। 💐💐

Surya grahan 2023 in india date and time

Preamble to the Indian Constitution

भारतीय संविधान 26 जनवरी 1950 को ही क्यों लागू किया गया था

Single Niche Blog Vs Multiple Niche Blog

Blogging Se Paisa kaise kamae ( 18 behtarin tarike

Pm kisan samman nidhi yojana : अब 2000 के जगह मिलेंगे 3000 रूपये जाने सच्चाई

Pm kisan samman nidhi yojana:-कब मिल सकती है 15वीं किस्त

 

12 thoughts on “Chandra grahan 2023 in india date and time|साल का अंतिम चंद्र ग्रहण शरद पूर्णिमा की रात, जानें सूतक का समय और प्रभाव”

Leave a Reply

Discover more from teckhappylife.com

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading